अमेरिका ने अपने नागरिकों की पाकिस्तान की गैर-जरुरी यात्रा पर लगाई रोक

वाशिंगटन। पाकिस्तान में हिंसक आतंकी घटनाओं को देखते हुए अमेरिका ने अपने नागरिकों के लिए एक एडवाइजरी जारी की है। इसमें नागरिकों को पाकिस्तान की गैर-जरुरी यात्रा टालने की सलाह दी गई है।

अपने नागरिकों पर इस तरह के चेतावनी अमेरिका ने पहले भी जारी की है। सात महीने पहले अमेरिका ने अपने नागरिकों को दक्षिण एशियाई देशों की यात्रा पर रोक लगा दी थी।

हाल ही में पाकिस्तान में हुई कई आतंकी घटनाओं को देखते हुए यूएस स्टेट डिपार्टमेंट ने कहा कि देश में ऐसी घटनाएं आम हो गई हैं। बयान में कहा गया कि इस कारण पूरे पाकिस्तान में अमेरिकी नागरिकों के लिए खतरा पैदा हो सकता है। इससे पूर्व भी आतंकियों ने राजनयिकों को अपना निशाना बनाया है और हाल की घटनाएं इस बात का सबूत है कि आगे भी अमेरिकियों पर हमले जारी रहेंगे।

पाकिस्तान से सटे बलूचिस्तान और फाटा में हुए हाल के आतंकी हमलों की रिपोर्ट पर नजर डालें तो,

-बलूचिस्तान में ईशनिंदा के आरोप में धार्मिक अल्पसंख्यकों को आतंकी निशाना बनाया गया।

-क्वेटा में आत्मघाती हमले में एक वरिष्ठ अधिकारी को निशाना बनाया गया था, हमले में 14 की मौत हो गई थी और 30 अन्य घायल गुए थे।

-ग्वादर और मास्तुंग में ग्रेनेड से किए गए हमले में 41 घायल हुए थे। क्वेटा में अन्य आतंकी हमले में 21 की मौत हुई थी और 45 घायल हुए थे।

-फतेहपुर इलाके में पूजा कर रहे कुछ लोगों पर आत्मघाती हमला किया गया जिसमें 19 की मौत हो गई थी और 30 अन्य घायल हुए थे। क्वेटा के ही अन्य घटना में सात की मौत और 23 जख्मी हुए थे।

-पंजाब प्रांत में पुलिसकर्मी और सेना के जवानों पर किये गए हमले में 47 की मौत हुई थी और 100 से अधिक घायल हुए थे।

पाकिस्तान के खैबर-पख्तूनख्वाह प्रांत में हाल ही में कई आतंकी घटनाएं सामने आई हैं, जिसमें सरकारी अधिकारी, एनजीओ में काम करने वाले, स्वास्थ्यकर्मी, धार्मिक अल्पसंख्यक और आम नागरिक मारे गए। इन इलाकों में अपहरण की घटनाएं तो आम बात हो चुकी हैं।

ऐसे में अमेरिका ने इन्हीं घटनाओं को देखते हुए अपने नागरिकों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए ये कदम उठाया है।