राहुल ने सातवें सवाल में की गणित की गड़बड़, हुए ट्रोल तो हटाया ट्वीट

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी बीजेपी से गुजरात में 22 सालों के कार्यकाल का हिसाब मांग रहे हैं. वह पीएम नरेंद्र मोदी से हर दिन एक सवाल पूछ रहे हैं. मंगलवार को राहुल गांधी ने ट्विटर के जरिए अपना सातंवा सवाल पूछा था. लेकिन कुछ ही देर में उन्होंने यह ट्वीट डिलीट कर दिया.

राहुल गांधी ने सातवां सवाल महंगाई पर पूछा था. उन्होंने एक चार्ट के जरिए 2014 और 2017 के आंकड़े ट्वीट करते हुए बताया था कि मोदी सरकार आने के बाद महंगाई कितनी बढ़ी है.

लेकिन इस चार्ट में कैल्कुलेशन की गलतियां थीं. 2014 की तुलना में 2017 की महंगाई का जो प्रतिशत निकाला गया था उसमें गलतियां थीं. इसके चलते ट्वीट करने के कुछ देर बाद ही सोशल मीडिया में उन्हें ट्रोल किया जाने लगा.

इसके बाद राहुल गांधी के ट्विटर हैंडल से इस ट्वीट को डिलीट कर दिया गया.

ट्वीट डिलीट करने के बाद बीजेपी की तरफ से प्रतिक्रियाएं भी आने शुरू हो गई. केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा, “न तो उनकी अरिथमैटिक सही है और न ही गणित. राहुल को पहले अपने आंकड़े सुधारने चाहिए. फिर सवाल खड़े करने चाहिए.”

हालांकि राहुल गांधी के फेसबुक पेज पर यह सवाल अभी भी दिख रहा है. इसमें उन्होंने चार्ट में महंगाई के प्रतिशत की बजाए कीमतों में अंतर को लिखा है.

अपने सवाल में राहुल गांधी ने जीएसटी को महंगाई का कारण बताया है. उन्होंने लिखा कि बढ़ते दामों ने आम आदमी का जीना दुश्वार कर दिया. उन्होंने सवाल किया कि क्या भाजपा सरकार केवल अमीरों की है?