Category: सनातन परंपरा

Sanatan-tradition-news

कहते हैं कि धरती पर जितना भार सारी चींटियों का है उतना ही सारे मनुष्यों का है और जितने मनुष्य हैं उतने ही मुर्गे भी हैं। चींटियां मूलत: दो रंगों की होती है लाल और काली। काली चींटी को शुभ

प. सिंहभूम जिला के सारंडा जंगल के विश्व कल्याण समीज आश्रम में प्रवास के दौरान शारदा पीठ के शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती ने कहा कि सरना और सनातन एक ही है, आदिवासी कोई अलग धर्म या जाति नहीं है, वे

लेटे हुए हनुमान जी: इलाहबाद में किले से सटा संगम के समीप एक प्राचीन हनुमान मंद‍िर है। यहां हर द‍नि भक्‍त दर्शन के ल‍िए आते हैं लेक‍िन मंगलवार के लि‍ए यहां ज्‍यादा भीड़ होती है। इस मंद‍िर में हुनमान जी

इस बार होलिका दहन का मुहूर्त शाम 6.26 मिनट से लेकर 8.55 मिनट तक है रंग, गुलाल से भरा मस्ती में रचा-बसा मनमोहक पर्व है होली। इस वर्ष यह 2 मार्च 2018 को मनाया जाएगा अर्थात् 1 मार्च को होलाष्टक

महाभारत कथाओं और अंतर्कथाओं के जीवन का सार और नैतिक शिक्षाओं का दुनिया का सबसे बड़ा और महान ग्रंथ है, जिसमें जीवन के जीने का सार है तो भक्ति को आत्मसात कर भवसागर से तरने का नशा है। सदगुणों का